गूगल तुम क्या खाती हो? जानिए गूगल की हैरान करने वाली डाइट

Posted on

दोस्तों, आजकल सोशल मीडिया व इंटरनेट पर एक प्रश्न बार बार पूछा जा रहा है कि गूगल तुम खाने में क्या खाती हो या खाते हो, इस पोस्ट में हम इस प्रश्न का हैरान कर देने वाली जानकारी भरा उत्तर जानेंगे।

इस सवाल का जवाब प्राप्त करने से पहले चार लाइनों में यह समझ लेते हैं कि आखिर गूगल क्या है या गूगल
क्या होता है ?

गूगल क्या है

गूगल एक सर्च इंजन है दुनिया में जितने भी सर्च इंजन मौजूद है उनमें गूगल एक बड़ा नाम है । अगर दुनिया में
मौजूद सभी सर्च इंजनों में यह गणना कर ली जाए कि कौन सा सर्च इंजन सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है
तो गूगल ही वो सर्च इंजन है जो विश्व में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है। इसका इस्तेमाल हर रोज़ सैकड़ो करोड़ लोग करते हैं। गूगल 1998 में लांच हुआ था।

एक अनुमान के तहत यह कहा जाता है कि गूगल पर प्रति सेकण्ड लगभग 63000 सर्च किये जाते हैं।

तो दोस्तों, गूगल एक प्रकार का सॉफ्टवेयर टूल है। जिसे हम इंटरनेट कनेक्शन की मदद से एक्सेस करते हैं और उसपे हम अपनी शंका व प्रश्न डाल के सर्च करते हैं। सर्च करने पर गूगल, इंटरनेट पर उस विषय या उससे सम्बंधित जितनी भी इन्फॉर्मेशन मौजूद है वह हमें फेच (fetch) करके देता है और उसे हम गूगल की मदद से आसानी से एक्सेस कर पाते हैं।

गूगल, अल्फाबेट इंकॉर्पोरेटेड कंपनी का हिस्सा है। इन दोनों कंपनियों के को-फाउंडर लैरी पेज और सर्गी ब्रिन हैं। अगर सीईओ की बात करी जाये, तो दोनों ही कंपनियों के सीईओ सुन्दर पिच्चई जी हैं।

गूगल पुरुष हैं या स्त्री है

दोस्तों गूगल ना ही तो पुरुष है और ना ही स्त्री है। गूगल एक सॉफ्टवेयर है। यह निर्जीव चीज़ है। नर या मादा, स्त्री या पुरुष तो सजीव चीज़ों में होता है। गूगल एक निर्जीव चीज़ है, ये रोबोट या आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की कैटेगरी में रखा जा सकता है।

हालांकि, गूगल असिस्टेंट एप में सामान्यता (by default) वॉइस फीमेल (स्त्री) की रहती है पर आप इसे बदल सकते हैं।

अगर आप गूगल असिस्टेंट की आवाज़ बदलना चाहते हैं, फीमेल (लड़की) से मेल (लड़का), तो आपको निम्नलिखित स्टेप्स को फॉलो करना होगा:

  • सबसे पहले गूगल असिस्टेंट एप खोल लें।
  • अब आपको दायीं तरफ ऊपर की और दिख रहे प्रोफाइल आइकॉन पर क्लिक करना होगा।
  • नीचे की ओर स्क्रॉल करें और असिस्टेंट वॉइस ऑप्शन का चयन करें।
  • वहाँ पर मेल सेलेक्ट कर लें,अब आवाज़ बदल के पुरुष की हो गयी है।

अब दोस्तों, बात कर लेते हैं गूगल की डाइट के बारे में!

गूगल क्या खाता है

गूगल की बिल्डिंग-ऑफिस
गूगल की बिल्डिंग-ऑफिस

जैसे कि मैंने पहले ही बता दिया है कि गूगल एक जीवित चीज़ नहीं है वो आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, आर्टिफिशियल वर्ल्ड यानी इंटरनेट/कंप्यूटर की दुनिया में मौजूद एक सॉफ्टवेयर है जिसका इस्तेमाल दुनिया में उसकी श्रेणी के सर्च इंजनों में सर्वाधिक किया जाता है। गूगल एक फास्ट और विश्वसनीय (Reliable) सर्च इंजन है।
तो दोस्तों अब ये तो साफ हो गया है कि गूगल हमारी तरह सजीव नहीं है तो उसे खाने पीने की जरूरत नहीं पड़ती है। लेकिन,
फिर भी अगर कई सारे तर्कों को जोड़ते हुए उत्तर दिया जाए तो हम यह कह सकते हैं कि गूगल बिजली, प्रोग्राम
कोड्स आदि खाता है। 😄
दोस्तों गूगल हमारी तरह दाल-चावल, रोटी-सब्जी, पनीर की सब्जी, हलवा, रसगुल्ला इत्यादि सामान नहीं खाता है।

गूगल एप के मज़ेदार जवाब – क्या खाती हो?

गूगल एप पर जब कोई पूछता है कि “गूगल तुम क्या खाती हो?”, तो गूगल असिस्टेंट निम्न मज़ेदार जवाब देती है:

हमने पूछा – Google, tum kya khati ho?

(यह जवाब हमें मिलें)😄

इमोजी की दावत मैं हमेशा पाबन्दी से कर लेती हूँ 😋

इमोजी के पकवान खा कर मेरा पेट भर गया है 🍝🍲

आप खुद ही देखिये:

गूगल एप में असिस्टेंट से पुछा तुम क्या खाती हो? का जवाब
गूगल एप में असिस्टेंट से पुछा तुम क्या खाती हो? का जवाब

गूगल से कैसे पूछे कि क्या खाती हो?

अगर आप भी स्वयं गूगल से इस प्रश्न का मज़ेदार जवाब पाना चाहते हैं तो आपको नीचे दिए हुए स्टेप्स को फॉलो करना पड़ेगा:

  1. अगर अपने एंड्राइड फोन पर 2-3 सेकंड के लिए लगातार मेनू बटन दबाएं रहें।
  2. अब गूगल असिस्टेंट एप चालू हो जायेगा।
  3. अब पूछिए मुहं से बोलकर “गूगल, तुम क्या खाती हो?”
  4. अब आपको गूगल का मज़ेदार जवाब मिल जायेगा।

इसके अलावा दोस्तों, आप गूगल से और भी तमामों प्रकार के सवाल पूछ सकते हो, जिनका गूगल मज़ेदार जवाब देता है:

जैसे:

  • ओके गूगल, मेरा नाम क्या है?
  • गूगल, तुम्हारा नाम क्या है?
  • क्या तुम्हारा कोई फ्रेंड है?
  • तुम्हारे कितने फ्रेंड हैं?
  • क्या तुमने कभी पिज़्ज़ा खाया है?

गूगल असिस्टेंट ऐसे जवाब कैसे दे पाता है?

प्यारे दोस्तों, गूगल असिस्टेंट एक प्रकार का आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस सॉफ्टवेयर (A.I.) है। इस बात को सम्पूर्ण तरीके से समझने के लिए आपको पहले यह समझना होगा कि ए०आई० मॉडल क्या होता है और यह कैसे काम करता है।

संक्षेप में बस इतना समझ लीजिये कि आर्टिफिशल इंटेलिजेंस यानि ए०आई० आधारित सॉफ्टवेयर मॉडल, कंप्यूटर दुनिया के अन्य सॉफ्टवेयर के मुकाबले काफी तेज़ होते हैं और यह इस तरह प्रोग्राम और प्रशिक्षित (training) किये जाते हैं कि इनमें थोड़ी बहुत सोचने समझने की शक्ति (processing power) आ जाती है। कुल मिलाकर आप यह मान सकते हैं कि गूगल असिस्टेंट को इस तरह प्रोग्राम किया गया है कि वह हमारी बातों को अन्य सॉफ्टवेयर के मुकाबले थोड़ा बहुत ज़्यादा समझकर इस तरह के उत्तर देता है।

इस सवाल के जवाब को और भी अच्छे तरीके से समझने के लिए आप इन दो टॉपिक्स को पहले अच्छे से समझें:

आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस क्या है?

मशीन लर्निंग क्या है?

क्यूंकि गूगल असिस्टेंट के इस तरह काम कर पाने के पीछे इन्हीं दो मुख्य सॉफ्टवेयर टेक्नोलॉजी का हाथ है।

आर्टिफिशल इंटेलिजेंस असिस्टेंट रोबोट का चित्रण
आर्टिफिशल इंटेलिजेंस असिस्टेंट रोबोट का चित्रण

निष्कर्ष – गूगल का खाना

गूगल सजीव प्राणी न होने की वजह से हम इंसानों की तरह खाना नहीं खा सकता है। गूगल विश्व में सर्वाधिक प्रयोग किया जाने वाला सर्च इंजन है।

तो दोस्तों मुझे उम्मीद है की अब आप लोगों को यह समझ में आ चुका होगा कि गूगल क्या खा सकता है और क्या
नहीं खा सकता है और आखिर गूगल क्या है। काफी मजेदार सवाल व जानकारी थी। अगर इसके बाद भी आपके मन में कोई शंका रही हो तो आप वह प्रश्न मुझसे नीचे कमेंट सेक्शन में पूछ सकते हैं और इस मज़ेदार पोस्ट पे भी अपनी प्रतिक्रिया जरूर दें।


गूगल तुम क्या खाती हो?

गूगल एक निर्जीव चीज़ है। खाना-पीना तो सजीव चीज़ों में देखे जाने वाली प्रतिक्रिया है। गूगल एक सर्च इंजन वेब सॉफ्टवेयर है जिसकी मदद से हम इंटरनेट पे मौजूद सामग्री को सर्च करते हैं। गूगल धरती पर सर्वाधिक प्रयोग किये जाने वाला सर्च इंजन है।


टेक्निकल गुरूजी – गौरव चौधरी जी का गूगल असिस्टेंट के बारे में बताते हुए एक यूट्यूब वीडियो

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *